लव जिहाद

By अवधेश प्रीत 667 पढ़ा गया | 5.0 out of 5 (2 रेटिंग्स)
Literature & Fiction Mini-SeriesEnded8 एपिसोड्स
एक गांव। गांव में थियेटर। थियेटर में फणीश्वरनाथ रेणु की कहानी 'पंचलाइट' का मंचन। मंचन से पहले कलाकारों का चयन और ख़ूब जम कर रिहर्सल। लेकिन रिहर्सल और मंचन के बीच 'लव जिहाद' के सांप ने अपना फन कैसे फैला लिया? नफ़रत से समाज का माहौल ख़राब हो सकता है, लेकिन नाटक के दो प्रमुख कलाकारों की मोहब्बत भी क्या समाज का माहौल ख़राब कर सकती है?
रेटिंग्स और रिव्युज़
2 रेटिंग्स
5.0 out of 5
पूर्व गतिविधि
"Shilpi Rastogi"

बहुत दिनों बाद बिंज पर एक अच्छी सहज भाषा में सरस कहानी पढ़ने को मिली, जहां ल...Read more

"Kamlesh Jha"

शानदार कहानी ।

5 Mins 172 पढ़ा गया 0 कमेंट
एपिसोड 2 25-04-2022
4 Mins 99 पढ़ा गया 0 कमेंट
एपिसोड 3 25-04-2022
3 Mins 78 पढ़ा गया 0 कमेंट
एपिसोड 4 25-04-2022
4 Mins 73 पढ़ा गया 0 कमेंट
एपिसोड 5 25-04-2022
4 Mins 66 पढ़ा गया 0 कमेंट
एपिसोड 6 25-04-2022
3 Mins 55 पढ़ा गया 0 कमेंट
एपिसोड 7 25-04-2022
4 Mins 49 पढ़ा गया 0 कमेंट
एपिसोड 8 25-04-2022
4 Mins 77 पढ़ा गया 2 कमेंट

ऐसे ही अन्य