रचना-प्रक्रिया

By ज्ञानरंजन 922 पढ़ा गया | 5.0 out of 5 (1 रेटिंग्स)
Romance Literature & Fiction Mini-SeriesEnded6 एपिसोड्स
'रचना-प्रक्रिया' उस दौर की कहानी है, जब प्रेम की परिभाषाएं तो बदल रही थीं लेकिन समाज में खुलेपन की बंद खिड़कियाँ जस-की-तस क़ायम थीं। बड़े शहर का इश्क़ और छोटे शहर का दबा-ढका प्रेम ज्ञानरंजन के अद्भुत विट के साथ, ‘रचना-प्रक्रिया’ में शामिल है। एक क्लासिक क़िस्सागोई, जिसका लबो-लहजा ज्ञानरंजन के सन ‘84 के बाद कहानी न लिखने से स्थगित सौंदर्य में बदल गया है। इस कहानी को ज्ञानरंजन की अनुमति और उनके साहित्यिक कामक़ाज को सम्भालने वाले उनके सखा और ‘पहल’ के सहयोगी मनोहर बिल्लौरे के सौजन्य से प्रकाशित कर रहे हैं।
रेटिंग्स और रिव्युज़
1 रेटिंग्स
5.0 out of 5
पूर्व गतिविधि
"Ankita Chauhan"

ज्ञानरंजन जी को पहली बार पढ़ा, जादूई भाषा है।Read more

4 Mins 396 पढ़ा गया 0 कमेंट
एपिसोड 2 21-11-2021
4 Mins 154 पढ़ा गया 0 कमेंट
एपिसोड 3 21-11-2021
4 Mins 103 पढ़ा गया 0 कमेंट
एपिसोड 4 21-11-2021
4 Mins 86 पढ़ा गया 0 कमेंट
एपिसोड 5 21-11-2021
4 Mins 87 पढ़ा गया 0 कमेंट
एपिसोड 6 21-11-2021
5 Mins 97 पढ़ा गया 2 कमेंट

ऐसे ही अन्य