घर का सबसे गंदा आदमी

By संतोष दीक्षित 512 पढ़ा गया | 5.0 out of 5 (1 रेटिंग्स)
Literature & Fiction Social Mini-SeriesEnded4 एपिसोड्स
अपनी हंसती-खेलती, चंचल और शरारती बहन के पति की मौत उसे भी अंदर तक हिला कर रख गई। साल भर पहले उसी ने तो घरवालों के ख़िलाफ़ जाकर बहन की इच्छा का सम्मान करते हुए उसके लिए बिज़नेसमैन नहीं, नौकरीपेशा वर ढूंढ़ा था। मेहमान पुकराते थे सब उसे। मेहमान की असमय मौत से बहन की बेहाल स्थिति देख उसका कलेजा बार-बार मुंह को आने लगता। लेकिन ख़ूब चाहकर भी उसकी आंखें न जाने क्यों नम नहीं हो रही थीं? हैरान थे सब उसे देखकर। ख़ुद उसकी पत्नी भी, जिसने उसे घृणित नज़रों से 'बेहद घटिया आदमी' तक कह दिया? क्या वह वाकई घर का सबसे गंदा आदमी था?
रेटिंग्स और रिव्युज़
1 रेटिंग्स
5.0 out of 5
पूर्व गतिविधि
"Himanshu Pratap Snehi"

The concept was unique but the writing is generic.

"Chandrakala Tripathi"

सादा कथ्य किंतु जीवन के गहरे विरोधाभास की थाह लेते हुए विकसित हुआ है।Read more

3 Mins 181 पढ़ा गया 0 कमेंट
एपिसोड 2 02-05-2022
5 Mins 116 पढ़ा गया 0 कमेंट
एपिसोड 3 02-05-2022
4 Mins 100 पढ़ा गया 0 कमेंट
एपिसोड 4 02-05-2022
5 Mins 116 पढ़ा गया 3 कमेंट

ऐसे ही अन्य